मेरी मित्र सूची - क्या आप सूची में है ?

Saturday, October 29, 2016

आकर तुम मत जाना.

.



जब आँगन में मेघ निरंतर झर-झर बरस रहे हों
ऐसे में दो विकल हृदय मिलने को तरस रहे हों
जब जल-थल सब एक हुए हों, धरती-अम्बर एकम
शोर मचाता पवन चले जब छेड़-छेड़ कर हर दम
ऐसे में तुम आना प्रियतम! ऐसे में  तुम आना


कंपित हो जब देहनेह की आशा लेकर आना
प्रेम-मेंह की एक नवल परिभाषा लेकर आना
लहरों से अठखेली करता चाँद कभी देखा है?
या आतुर लहरों का उठता नाद कभी देखा है?

चंदा बन के आना प्रियतम! चंदा बन के आना

पल-प्रतिपल आकुल-व्याकुल मन, राह निहारे हारा

तुम आयेना पत्र मिलाना कोई पता तुम्हारा
फागुन बीताबीत गया आषाढ़ कि आया सावन
कब आओगेकब आओगेकब आओगे साजन?

आकर तुम मत जाना प्रियतम! आकर तुम मत जाना
…………
पूनम माटिया

मिलकर इस दीपावली, गायें सुख के गान

शहीदों के परिवारों के संग मिलकर दीपावली मनायें , माटी के दीपक जलायें ...शुभकामनाएं .. डॉ. पूनम माटिया(विद्यावाचस्पति)



चहु दिशि ही यह नाद है, भारत देश महान।
उत्सव हैं हर रंग केदिन-दिन बढ़ती शान।।

साफ़-सफाई में जुटें
, हितकर इसको मान ।
कुछ दिन सीमित ना रहे, हो बस इसका ध्यान।।

घर-आँगन सब साफ़ हों
, तन-मन हो सहमान।
जात-पात मज़हब तजें, तज दें हम अभिमान।।

माटी के दीपक जलें
, संस्कृति का हो भान|
सबको ही
रोटी मिले, सबके हों भगवान।|

सुंदर दीपक घी भरा
, सब साजो-सामान।
राम-सिया की भेंट हो, पूजन अरु जलपान।।

‘पूनम’ इच्छा है यही
, ख़ुद को लें पहचान|
घर-घर पूजें राम को
, भीतर से अंजान।|

भारत माँ की आन को, तज दे
ते जो प्रान|
उनके अपने क्यों रहें, ख़ुशियों से अन्जान||

मिलकर इस दीपावली, गायें सुख के गान| 
दीपों की अवली सजे, हो उनका सम्मान||

नर-नारी बच्चों सहित
, सबका है अरमान।
लक्ष्मी इस दीपावली, आयें बन महमान।।

Friday, October 7, 2016

.सादर आमंत्रण......



प्रिय मित्रों !!!!!! आपकी दुआओं के फलस्वरूप....

.सादर आमंत्रण......

बालाजी रामलीला कमेटी, सी बी डी ग्राउंड, करकरडूमा, शाहदरा में जमेगी
सतमोला कवियों की चौपाल
11 अक्टूबर, 2016, सायं 8 बजे,

रामलीला कमेटी और सतमोला ग्रुप के चैयरमेन भाई अनिल मित्तल जी की ओर से आप सादर आमंत्रित हैं।

Praveen Shukla जी आपके, परम आदरणीय Surender Sharma जी तथा अन्य वरिष्ठ कविजन के सानिध्य में पढ़ने का अवसर मिलेगा ........यह गर्व का विषय है मेरे लिए ...
और ख़ास बात कि जो नहीं आ पाते वे अपनेमोबाइल पर लाइव देख़ सकते हैं...... गूगल प्ले स्टोर पर ' श्री बालाजी रामलीला'' app डाउनलोड करें...... ये समाचार रामलीला प्रधान आदरणीय Bhagwat Parshad Rustagi जी ने दिया........
आप सभी की शुभकामनायें चाहियें