मेरी मित्र सूची - क्या आप सूची में है ?

Wednesday, August 21, 2013

ghazal..................

तुझे सारा जमाना चाहता है||
तुझे दिल में बिठाना चाहता है||

अभी कितना रुलाना चाहता है |
कहाँ तक आजमाना चाहता है||

हमारी सात जन्मों की कसम है |
बता कितना निभाना चाहता है||

मुझे महताब का देकर भुलावा |
तुम्हीं को वो दिखाना चाहता है||

किसी ने बाग़ जंगल सब उजाड़े|
शज़र कोई बचाना चाहता है||

नहीं कुहरा तिरी क़िस्मत ये 'पूनम' |

‘क़मर’ अब जगमगाना चाहता है ||                                 ...........पूनम माटिया 


u can now read it ...In Roman .too.

Tujhe sara zamaana chahta hai |
Tujhe dil meiN bithaana chahta hai ||

Abhi kitna rulaana chahta hai |
KahaaN tak aazmaana chahta hai ||

Hamaari Saat JanmoN ki kasam hai |
Bataa kitna nibhana chahta hai ||

Mujhe Mehtaab ka dekar Bhulava |
Tumhi ko vo dikhana chahta hai ||

Kisi ne baag ,jangal sab ujaade |
Shazar koi bachaana chahta hai ||

NahiN kuhra tiri kismat ye ‘poonam’|
'Kamar' ab jagmagaana chahta hai ||............... poonam matia