मेरी मित्र सूची - क्या आप सूची में है ?

Friday, November 9, 2012

इन्तेज़ार ......





तमन्नाये कहें या ख्वाइशें मेरी अभी हैं बाकी || 

गेसुओं की छाँव में उम्र बिताना अभी है बाकी||




छोड़ दे जिद्द बस आजा एक बार सिर्फ मेरे लिए|


एक उम्र से तरसा हूँ तिश्नगी बहुत अभी हैं बाकी|| 





कशिश तेरी खींच लाती है मुझे बज़्म में तेरी |


दीदार-ए-यार की तड़प दीवानगी अभी है बाकी|| 




हैरत है के जिन्दा हूँ तन्हाइयों ,खामोशियों में भी| 


कुछ तुझे सुनना,कुछ तुझे सुनाना अभी है बाकी || 





अब के आना 'पूनम' तो रूठ जाना बेशक |

के तेरा रूठना ,मेरा मनाना अभी है बाकी ||......................poonam